PTET Application 2021 (B.A B.ED B.Sc B.Ed) यहां भरें

Check Rajasthan PTET application notification 2021, last date, eligibility, form fees and reprint application here

Rajasthan PTET Application 2021 is process by ptetraj2021 for 4 year Integrated and 2 year course (BA B.ED, B.Sc B.Ed ). PTET Application Form link 2021 is updated on ptet official website panel & preparation at PTET Form 2021(ptet.in). You can check PTET Application Last Date 2021, PTET Form Fill 2021 at this page. The PTET Application notification 2021 will release on Raj PTET website. 

All the information related to PTET application 2021 has been updated on this ptet website page. All the candidates have a special request to read all the rules carefully while filling the application, because in case of any kind of error in the future, there was no opportunity to rectify the correction. If a candidate is found to have a mistake in the name, date of birth, or the name of the parent, then there will be no chance of rectification in future.

How to Apply for Rajasthan PTET Application 2021

नीचे दिए गए सर्वर से पीटीईटी 2021 आवेदन करें ( PTET 2021 के लिए 03 फरवरी से शुरू)

पीटीईटी आवेदन 2021 हेतु सामान्य नियम एवं मार्गदर्शन

राजस्थान के विभिन्न शिक्षक प्रशिक्षण संस्थानों में बी.एड पाठ्यक्रमों में सत्र PTET 2021-22 में प्रवेश के लिए एक प्रतियोगी प्रवेश परीक्षा ( पीटीईटी 2021 ) राजकीय डूंगर महाविद्यालय बीकानेर के द्वारा राजस्थान सरकार के द्वारा प्रदत नियमों के अनुसार आयोजित होगी । बी.एड पाठ्यक्रम में प्रवेश हेतु नियम – राजस्थान के बी.एड महाविद्यालयों में प्रवेश हेतु पीटीईटी 2021 परीक्षा करवायी जायेगी ।

राजकीय डूंगर महाविद्यालय बीकानेर के द्वारा Rajasthan PTET online application 2021 आमंत्रित किये जा रहे है । राजस्थान राज्य के महाविद्यालय अथया बीएड पाठ्यक्रम में प्रवेश हेतु आवश्यक अहर्ता प्राप्त किसी भी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से छात्र ने स्नातक अथवा स्नातकोत्तर परीक्षा में 50 प्रतिशत अंक किये हो . वह इस परीक्षा में फार्म भरने के लिए योग्य है । अनु जाति , जन जाति . अन्य पिछड़ा वर्ग , अति . पिण्डा वर्ग , दिव्यांग वर्ग , विधवा , परित्यक्ता महिला अभ्यर्थियों के लिए स्नातक अथवा स्नातकोत्तर 45 प्रतिशत अंक आवश्यक है । एकल बैठक ( Single Seating ) परीक्षा पद्धति से स्नातक परीक्षा उत्तीर्ण अभ्यर्थी चाहे उन्होंने बाद में स्नातकोत्तर परीक्षा भी उत्तीर्ण क्यों न कर ली हो , पीटीईटी टेस्ट में बैठने हेतु पात्र नहीं है , इसी प्रकार वे अभ्यर्थी जिन्होंने 10 + 2 + 3 या 10 + 1 + 3 परीक्षा पद्धति से स्नातक परीक्षा उत्तीर्ण नहीं की है वे भी इस परीक्षा में बैठने हेतु पात्र नहीं है ।

बी.ए. / बी.कॉम / बी.एस.सी. / शिक्षा शास्त्री परीक्षा के अन्तिम वर्ष या एम.ए. / एम.कॉम / एम.एस.सी / आचार्य के अन्तिम वर्ष के अभ्यर्थी भी पीटीईटी 2021 परीक्षा हेतु योग्य है बशर्त है कि ये काउंसलिंग में पंजीकरण की अन्तिम तिथि से पूर्व परीक्षा की अंक तालिका प्राप्त कर ले। इस हेतु किसी भी स्थिति में समाचार पत्र अथवा इन्टरनेट की अंक तालिका के आधार पर प्रवेश योग्य नहीं माना जायेगा । अभ्यर्थी के द्वारा किसी भी स्थिति में झूठी सूचना उपलब्ध करवाकर प्रवेश पाने की स्थिति में उसका प्रवेश निरस्त किया जायेगा तथा जमा किया गया शुल्क जब्त कर लिया जायेगा ।

पीटीईटी 2021 में प्राप्तांक के आधार पर योग्यता सूची तैयार की जायेगी । अधिकतम 5 प्रतिशत सीट राजस्थान राज्य के बाहर के अभ्यर्थीयों के द्वारा भरी जा सकती है बशर्त है कि अन्य राज्य के अभ्यर्थीयो का मेरिट कट ऑफ राजस्थान राज्य के सामान्य श्रेणी के छात्र से कम न हो , शेष सीट केवल राजस्थान राज्य के मूल अभ्यर्थियों के लिए ही उपलब्ध होगी ।

राजस्थान राज्य के बाहर के अभ्यर्थी सामान्य श्रेणी में ही पात्र होंगे । प्रत्येक संकाय ( कला , विज्ञान एवं वाणिज्य ) सकाय में उपलब्ध कुल सीटों में राजस्थान राज्य के मूल अभ्यर्थियों के लिए आरक्षण की स्थिति निम्नानुसार होगी –

1 अनु.जाति अभ्यर्थियों के लिए 16 %. II अनु जन जाति वर्ग के लिए 12 %. III अन्य पिछड़ा वर्ग के लिए 21 %. IV अति पिछड़ा वर्ग ( MBC ) के लिए Govt . order ) .. V महिला ( इसमें से 8 प्रतिशत सीट विधया वर्ग की महिला एवं 2 प्रतिशत सीट परित्यक्ता वर्ग की 20 % महिलाओं के लिए 4 . 5 . 6 . ( As per 05 %. VI दिव्यांग वर्ग के लिए ( including blind , deaf and / or dumb and orthopedic ) with यह लाभ चिकित्सा प्रमाण पत्र संख्या 4 में सक्षम चिकित्सा अधिकारी ( चिकित्सा बोर्ड और सह आचार्य मेडिकल कॉलेज या सी.एम.एच.ओ ) द्वारा 40 प्रतिषत से अधिक दिव्यागता प्रमाणित होने पर ही दिया जायेगा । VII – सेवा या पूर्व रक्षा सेवा के आश्रितों के लिए ( केवल जल , थल , नम सेना ) 05 % VIII आर्थिक कमजोर वर्ग ( EWS ) 10 % 10 of 17 नोट अनुसूचित जाति जन जाति . अन्य पिछड़ा वर्ग . अति पिछड़ा वर्ग के अभ्यार्थियों को जिला न्यायाधीश . एस.डी.एम द्वारा प्रदत्त प्रमाण पत्र प्रस्तुत करना होगा । रक्षा आश्रितों का लाभ पुत्र . पुत्री पत्नी या पति सगी बहन अथवा भाई को ही देय होगा दर्शत है कि सम्बन्धित पर आश्रित हो तथा इनके संरक्षक जीवित न हो ।

Be the first to comment

Helpline - यदि आप भी अभ्यर्थी की सहायता करना चाहते हैं तो बेझिझक प्रश्नों के उत्तर दे.. हमें उत्तर देने में 2 घंटे से ज्यादा समय लग सकता है


*